रोचक खबरे

इमेज पर बात आई तो आक्रामक हुए पीएम मोदी, बढ़ी राहुल गांधी की परेशानी

Monday, May 6, 2019 03:25:52 PM
इमेज पर बात आई तो आक्रामक हुए पीएम मोदी, बढ़ी राहुल गांधी की परेशानी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इमेज को लेकर जिस प्रकार की बात कही, उसके बाद से पीएम मोदी आक्रामक हैं. पहले पीएम मोदी ने राजीव गांधी के बोफोर्स तोप घोटाले से जुड़े मामले को लेकर भ्रष्टाचारी नंबर वन कहा तो पूरी कांग्रेस पार्टी उबल पड़ी. अब उन्होंने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह व राहुल गांधी को लेकर बड़ी बात कह दी है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को यह अंदाजा भी नहीं होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इमेज को खराब किए जाने को लेकर दिया गया उनका बयान कितना भारी पड़ने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव 2014 वाले मोड में आ गए हैं। काफी आक्रामक हैं और निशाने पर राहुल गांधी व कांग्रेस पार्टी है। गिनाने के लिए तो वैसे भी उनके सामने कई मुद्दे हैं। लेकिन, इमेज पर बात आई तो पीएम मोदी ने राहुल गांधी की इमेज पर ही हमला बोल दिया है। दरअसल राहुल गांधी ने एक इंटरव्यू में साफ कहा है कि मोदी जी की ताकत उनकी इमेज है और हम इसको लेकर रणनीति बना रहे हैं। राहुल गांधी के बयान के बाद पीएम मोदी ने लगातार दो दिन उन पर तीखा हमला किया है। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर भी निशाना साधा।

शनिवार को पीएम ने राजीव गांधी का नाम लिए बिना हमला बोला था। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि आपके पिताजी को आपके दरबारियों ने गाजे-बाजे के साथ मिस्टर क्लीन बना दिया था। लेकिन देखते ही देखते भ्रष्टाचारी नंबर 1 के रूप में उनका जीवन काल समाप्त हो गया। पीएम मोदी का यह बयान आते ही राहुल गांधी व प्रियंका गांधी समेत पूरी कांग्रेस पार्टी नरेंद्र मोदी के खिलाफ हमले में जुट गई और तमाम मुद्दे पीछे छूटते चले गए। राहुल गांधी समेत पूरी कांग्रेस पार्टी अपने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का इमेज को बेहतर बताने में जुट गई और उन्हें प्रधानमंत्री मोदी के इमेज खराब करने की रणनीति का अब ध्यान ही नहीं रहा।

प्रधानमंत्री ने एक बार फिर मध्य प्रदेश के सागर में रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को रिमोट हुआ वीडियो गेम खेलने वाला बताया। उन्होंने कहा कि राजकुमार के समझदार होने के इंतजार में कांग्रेस ने 10 साल देश पर एक्टिंग पीएम थोपे रखा। उन्होंने सोचा कि राजकुमार आज सीखेगा, कल सीखेगा। भरपूर ट्रेनिंग भी दी गई। लेकिन सब बेकार हो गया। इस कोशिश में देश के 10 साल बेकार हो गए। क्रिकेट का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि जिस प्रकार नाइट वॉचमैन को टेस्ट मैच के दिन के खेल के आखिरी ओवरों में विकेट गिरने के बाद भेजा जाता है। उसी प्रकार देश में एक नाइट वॉचमैन प्रधानमंत्री 2004 में थोप दिया गया। खुद कांग्रेसी व परिवार को भी राजकुमार पर भरोसा नहीं था। इसलिए राजकुमार के तैयार होने तक परिवार का वफादार वॉचमैन बैठाने की योजना बनी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इन हमलों के पीछे के कारण को देखेंगे तो उन्होंने कांग्रेस की तमाम रणनीति को एक झटके में ध्वस्त कर दिया है। कांग्रेस किस प्रकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जिन तेवरों में बोल रही थी अब वह बचाव की मुद्रा में आती दिख रही है। बचाव अपने पूर्व प्रधानमंत्रियों का। प्रधानमंत्री मोदी की इमेज खराब करने की बात कर राहुल गांधी भी घिरते दिखे। अब वे अपने पार्टी के सम्मानित नेताओं की इमेज को बचाने की कोशिश करते दिख रहे हैं। इस क्रम में शब्दों की मर्यादा को ताक पर रख दिया गया है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रधानमंत्री को सनक वाला और अन्य कांग्रेस नेता तमाम तरह के नामों से संबोधित कर रहे हैं। यह सब भाजपा के पक्ष में जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी आम लोगों के बीच या बात पहुंचाने की कोशिश में है कि एक भले पीएम को रणनीति के तहत बदनाम करने की कोशिश हो रही थी, जब उन्होंने पोल खोली तो सब उन्हें अपशब्द कहने लगे।

151 views
loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =

To Top