रोचक खबरे

कोठे से आजाद कराया और कर ली शादी, जानिए पूरी प्रेम कहानी…

कोठे से आजाद कराया और कर ली शादी, जानिए पूरी प्रेम कहानी…

इंटरनेट डेस्क। अक्सर यह तो हम सभी जानते है कि प्यार इस दुनिया का सबसे खूबसूरत एहसास माना जाता है और जब कोई किसी से सच्चा प्यार करता है तो उसे पाने के लिए वह कुछ भी करने को तैयार हो जाता है। क्योंकि मध्य प्रदेश के आकाश नाम का एक लड़का अपने सच्चे प्यार को पाने के लिए जान तक को जोखिम में डाल दिया था। प्यार की ताकत के साथ लोग नई मिसाल कायम करते हैं। ऐसे ही एक मिसाल सामने आई है। आपको बता दें कि यह मामला मध्यप्रदेश का है जहां के रहने वाले एक आकाश नाम के लड़के को एक लड़की से प्यार हो गया था और उसे पाने के लिए अपनी जान को उसने जोखिम में डाल दिया। हालांकि उन दोनों का प्यार रंग लाया और उन्होंने कोर्ट पहुंचकर शादी भी कर ली। साथ ही इस युवक ने अपने पूरे समाज को एक सकारात्मक संदेश भी दिया है।

loading...

बता दें, कि आकाश और भारती दोनों बांछड़ा समुदाय से हैं। यह वही बांछा समुदाय है जो अपने ही बच्चियों को वेश्यावृत्ति जैसे दलदल में धकेल देता है। आपको बता दें कि मालवा की नीमच मंदसौर और रतलाम जिले के आसपास इस समुदाय के करीब 250 डेरे हैं। जो खुलेआम वेश्यावृत्ति का काम करते हैं। इस समुदाय के लोग अपनी खुद अपनी बच्चियों को इस गंदे काम में लगा देते हैं। जहां चंद रुपयों में इन बच्चों के जिस्म के साथ खेला जाता है। हैरानी की बात तो यह है कि बहुत सालों से यह काम हो रहा है। लेकिन प्रशासन अभी तक इसे बंद कराने का कोई भी कदम नहीं उठाया है आपको बता दें कि आज तक की एक रिपोर्ट के मुताबिक बांछड़ा समुदाय में बच्चियों के साथ इस तरह का अन्याय देखकर इस प्रेमी आकाश का खून खौल उठा। लेकिन पूरे समुदाय के सामने यह कुछ भी नहीं कर पाया। आकाश ने पुलिस को बताया कि अगर प्रशासन साथ दे तो वह इस गंदगी को खत्म करने का पूरा प्रयास करेगा। इतना ही नहीं यह आकाश इसके लिए फ्रीडम फर्म नाम के एनजीओ के साथ मिलकर काम करने लगा।

आकाश ने बताया है कि अब तक वह तकरीबन 60 लड़कियों को देह व्यापार के धंधे से आजाद करा चुका है। उसने बताया कि 3 साल पहले एक रेस्क्यू के दौरान भारती से मुलाकात हुई थी। हालांकि उस दौरान भारतीय नाबालिक की जो आगे पढ़ना चाहती थी। लेकिन उसकी मां ने उसे इस गंदगी में धकेल दिया था। आकाश ने किसी तरह भारती को निगम के एक हॉस्टल में भर्ती करा दिया था। लेकिन कुछ दिन बाद उसे उसकी मां ने हॉस्टल से ले आई और पंचायत बुलाया गया। तब सरपंच ने आकाश को भारतीय से दूर रहने की हिदायत दी। लेकिन ठीक 7 दिन के बाद एनजीओ और पुलिस की मदद से एक डेरे में छापा मारा गया। तब भारती की मां को 5 लड़कियों के साथ देह व्यापार करते हुए पकड़ लिया गया एवं वहां से आकाश को भारती की पता चल गया। पुलिस के द्वारा निगम के आश्रम में भारती की रहने की बंदोबस्त किया गया और स्कूल में एडमिशन कराया गया और भारती के बालिक होने के बाद पुलिस ने इन दोनों की शादी करवा दी है। क्योंकि यह दोनों एक दूसरे से काफी प्यार करते हैं और एक दूसरे के साथ अपनी पूरी जिंदगी बिताना चाहते हैं. इसके साथ ही नवदंपती बांछड़ा समुदाय में जो दाग लगा उसे मिटाने के लिए मिलकर लड़ने का निर्णय लिया है।

यह अभिनेत्री कर चुकी है 100 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय, देखें: Photos
इस मंदिर में झाडू चढ़ाने से ठीक हो जाता है त्वचा रोग, जानिए कहा है ये मंदिर
यहाँ की महिलाएं हर साल तीन महीने के लिए क्यों बन जाती हैं विधवा ? जानिए
इंसान ही नहीं यहाँ की ‘भैंसे’ भी करती है नशा, वजह जानकर उड़ जायेंगे होश…

667 views
loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − six =

To Top