अन्य

बच्चों से उनकी हंसी और बचपन छीन लेता है यौन उत्पीड़न : अदालत

Wednesday, February 14, 2018 04:20:02 PM
बच्चों से उनकी हंसी और बचपन छीन लेता है यौन उत्पीड़न : अदालत

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने चार साल के बच्चे का यौन उत्पीड़न करने वाले व्यक्ति को 10 साल की सजा सुनाते हुए कहा कि बच्चे के दिलोदिमाग से यौन उत्पीड़न का घाव नहीं भरता है और यह उसके मन से हर अच्छी याद को खत्म कर देता है।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सीमा मैनी ने उत्तरी दिल्ली के निवासी मनोज को कठोर कारवास और 30,000 रुपए का जुर्माना लगाते हुए कहा कि बच्चे का यौन उत्पीड़न उसकी पूरी शख्सियत पर गहरा घाव छोड़ता है। बेहतरीन चिकित्सीय सहायता के बाद भी ये घाव कभी नहीं भरते हैं। ये घाव किसी की खुशियों को नष्ट कर देते हैं।

यह बच्चे की हर मुस्कान और अच्छी याद को खत्म कर देता है। अदालत ने पीड़ित को जुर्माने की 20,000 रुपए की राशि दिए जाने के साथ ही तीन लाख रुपए का अलग मुआवजा देना भी स्वीकार किया।

200 views
loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − twelve =

To Top