अन्य

चीन के साथ अमेरिका की व्यापार-बातचीत ‘बहुत अच्छी’ चल रही है : डोनाल्ड ट्रंप

Friday, April 13, 2018 02:29:27 PM
चीन के साथ अमेरिका की व्यापार-बातचीत ‘बहुत अच्छी’ चल रही है : डोनाल्ड ट्रंप

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि चीन के साथ उनके देश की व्यापार-बातचीत बहुत अच्छी चल रही है और इसमें काफी प्रगति है। ट्रंप ने यहां व्हाइट हाउस में आज अमेरिकी श्रमिकों को संबोधित करते हुए कहा, मुझे यह घोषणा करते हुए गर्व हो रहा है कि हमारी चीन के साथ अच्छी बातचीत चल रही है। यह पूरी बातचीत बहुत व्यापक है। अमेरिका और चीन के बीच चल रहे व्यापार युद्ध के बीच ट्रंप की यह टिप्पणी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। दोनों देश एक-दूसरे के चुनिंदा उत्पादों पर अतिरिक्त आयात शुल्क लगा रहे हैं। ट्रंप ने व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में श्रमिकों से कहा, कई वर्षों से हमारे देश का फायदा उठाया गया है। मैं चीन को जिम्मेदार नहीं ठहराता, सही बताऊं तो मैं हमारे प्रतिनिधियों को जिम्मेदार ठहराता हूं। चीन बहुत लंबे समय से बहुत जोरदार तरीके से हमारे साथ बातचीत कर रहा है। हमने खुले पन और उन शुल्कों से निजात पाने की इस बातचीत में काफी प्रगति की है। मुझे लगता है कि हमें व्यापार में कुछ बड़ा जबरदस्त खुलापन देखने को मिलेगा।

Image result for donald trump and chinese president

उन्होंने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग को अपना दोस्त बताते हुए कहा, मैं उन्हें बहुत पसंद करता हूं। मुझे लगता है कि वह भी मुझे पसंद करते हैं, माने या ना माने लेकिन वह चीन के लिए हैं और मैं अमेरिका के लिए। गवर्नरों और सीनेटरों के एक समूह के साथ बैठक में ट्रंप ने आरोप लगाया कि चीन ने अमेरिका के कृषि क्षेत्र के साथ गलत व्यवहार किया है। ट्रंप के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने कहा कि अमेरिका को पिछले कुछ दिनों से चीन की ओर से अच्छे संकेत मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने भी जवाब में इसी तरह के संकेत भेजे हैं। अच्छी बातचीत चल रही है।

Related image

इस बीच, ट्रंप ने अपने शीर्ष आॢथक सलाहकारों से कहा कि वे बहु-देशीय प्रशांत पारीय साझेदारी (टीपीपी) में शामिल होने की संभावनाओं का फिर से अध्ययन करें। ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद इस व्यापार समझौते से अमेरिका को अलग कर लिया था। व्हाइट हाउस के उप प्रेस सचिव भलडसे वाल्टर्स ने कहा, पिछले साल राष्ट्रपति ने ओबामा प्रशासन में किए गए टीपीपी समझौते को खत्म करने का वादा निभाया क्योंकि यह अमेरिकी कामगारों और किसानों के लिए अनुचित था। राष्ट्रपति लगातार यह कहते रहे हैं कि वह इससे बेहतर समझौते के लिए तैयार रहेंगे।

1,175 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + three =

To Top