हेल्थ

नार्मल डिलीवरी की ख्वाहिश को पूरा करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

Wednesday, May 2, 2018 04:34:49 PM
नार्मल डिलीवरी की ख्वाहिश को पूरा करने के लिए अपनाएं ये टिप्स

लाइफस्टाइल डेस्क। किसी भी महिला के जीवन में गर्भावस्था खास पड़ाव होता है और उस दौरान हर महिला यही चाहती है कि वह नार्मल डिलीवरी से स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सके। परन्तु वर्तमान में ज्यादातर केसो में देखा जाता है कि डाक्टर आप्रेशन का सहारा लेते है। एक शोध के अनुसार भारत में 60 प्रतिशत बच्चों को जन्म सीजेरियन आप्रेशन से ही होता है। डाक्टरों को यह प्रक्रिया बहुत आसान लगती है परन्तु इस आप्रेशन को करवाने वाली महिला को बहुत पीड़ा होती है। सिर्फ इतना ही नहीं आप्रेशन के बाद कई महिलाओं को अलग-अलग तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अक्सर नार्मल डिलीवरी नही होने के कारण शारीरिक कमजोरी का सामना करना पड़ता है।
आइये दोस्तों आज हम आपको ऐसे टिप्स बतायेगे इन टिप्स को अपनी गर्भावस्था आखरी माह में फोलो करती है तो निश्चित रूप से नॉर्मल डिलीवरी उम्मीद बढ़ जाती है, आइये जानते है इनके बारे में विस्तार से

Image result for गर्भावस्था डाइट

डाइट का खास ध्यान रखें

यह बात हम सभी जानते है कि डिलीवरी के आखरी तीन महीनों में समय के दौरान डाक्टर डाइट पर विशेष ध्यान रखने की सलाह देते है। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि डिलीवरी के समय दो एम एल खून बाहर निकल जाता है। ऐसे में आवश्यक होता है कि गर्भवती महिला में खून ज्यादा रहे। सामान्य रूप से डिलीवरी के दौरान महिलाओं को काफी पीड़ा सहनी पड़ती है और ज्यादा खून बहने से शरीर में कमजोरी आ जाती है। इस लिए बहुत आवश्यक है कि आप आखरी तीन महिनो में आयरन और कैल्शियम युक्त आहार का सेवन करें।

Image result for गर्भावस्था तनाव

तनाव से मुक्ति

अक्सर महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान तनाव डिलीवरी में परेशानियां उत्पन्न करती है। इस दौरान डॉक्टरों का मानना है कि यदि आप गर्भावस्था के अतिम महिनों में तनाव में रहती है तो इससे नार्मल डिलीवरी की संभावना कम हो जाती है। इससे पैदा होने वाले बच्चे की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

Related image

पानी की मात्रा
यह बात हम सभी जानते है कि नार्मल डिलीवरी के लिए सबसे आवश्यक है कि आपके शरीर में प्रचुर मात्रा होनी चाहिये। इससे गर्भवती महिला के गर्भाशय में शिशु एमियोटिक फ्लयूड में रहता है। इसलिए गर्भवस्था के दौरान सबसे आवश्यक रहता है कि इस दौरान दिन में कम कम दो लीटर पानी पीये।

नियमित वॉक करें
अक्सर देखा जाता है कि महिलाएं अपनी गर्भावस्था के दौरान आलसी हो जाती है। वह ज्यादातर समय सोने या बैठने में बिताती है। बता दें कि गर्भवस्था में ये आदत आपको परेशानी में डाल सकती है। उन्हें नियमित गार्डन में जाकर वॉक करनी चाहिए।

Image result for गर्भावस्था के दौरान योगा करना

गर्भावस्था के दौरान योगा करना
सामान्य रूप से योग करना हर किसी इंसान के लिए जरूरी है। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को इसकी बहुत ज्यादा जरूरत होती है। यदि आप एक नार्मल डिलीवरी चाहती है तो आपको अपनी प्रेग्नेंसी के अतिम माह में योग और व्यायाम करने चाहिए। इसके लिए आप योगा टीचर की सहायता ले सकती है।

 

Source: Google

593 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × five =

To Top