हेल्थ

सेनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से होते है कई नुकसान

Tuesday, May 1, 2018 01:06:34 PM
सेनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से होते है कई नुकसान

हेल्थ डेस्क। अक्सर हम हमारे आस पास का खास ध्यान रखते है और इसके लिए हम कई चीजों का इस्तेमाल करते है। जब हम घर से बाहर होते है तो सामान्य रूप से हमे हाथ धोने के लिए जगह नहीं मिलती है। ज्यादातर लोग अपनी इस परेशानी को दूर करने के लिए सेनिटाइजर का इस्तेमाल करते है। परन्तु इसका अधिक उपयोग करने भी आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। आइये दोस्तों आज हम आपको बताते है कि सेनिटाइजर का इस्तेमाल करते समय हमें किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिये।

Related image

अल्कोहल का इस्तेमाल

सेनिटाइजर इस्तेमाल करने वाले लोगों का मानना है कि ये आपके हाथ में मौजूद कीटाणुओं को मार देता है। परन्तु शायद आपको यह बात नहीं पता कि इसके लिए सही तरह से काम करने के लिए इसमें अल्कोहल की मात्रा 60 प्रतिशत से अधिक होनी आवश्यक है। इसलिए आपको सेनिटाइजर का इस्तेमाल करने से पहले इमसें उपस्थित अल्कोहल की मात्रा का ध्यान रखना बहुत जरूरी है।

Image result for सैनिटाइजर

प्रतिरक्षा में कमी

एक रिचर्स के मुताबिक हैंड सेनिटाइजर का इस्तेमाल करना बच्चों में प्रतिरक्षा में कमी करता है। यह भी देखा गया कि हैंड सेनिटाइजर का अधिक इस्तेमाल करने वाले बच्चे जल्दी बीमार पड़ते है। इस रिचर्स के मुताबिक बच्चों में बीमारियों से लडऩे की क्षमता कम होती है और सेनिटाइजर में उपस्थित घटक इस क्षमता को और भी कम करते है। सेनिटाइजर न सिर्फ बच्चों बल्कि वयस्कों की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी प्रभावित करता है।

Image result for सैनिटाइजर

हार्मोन्स की समस्या

सेनिटाइजर का ज्यादा इस्तेमाल करने से आपको हार्मोन्स संबंधित समस्या भी हो सकती है। ट्राइकलोसन हार्मोनल व्यवधान पैदा कर सकता है और बैक्टीरिया को इसके एंटीमाइक्रोबायल गुणों को अनुकूलित करने का कारण बनता है, जो अधिक एंटीबायोटिक प्रतिरोधी उपभेद पैदा करता है।

Image result for सैनिटाइजर

जहरीले तत्व

यदि आप किसी सुगन्धित हैंड सेनिटाइजर का इस्तेमाल करते है तो इस बात की सम्भावना अधिक है कि यह विषाक्त रसायनों से भरा हुआ होता है। चूँकि कंपनियों को सुगंध निर्माण के लिए जरूरी घटकों के बारे में बताने की आवश्यकता नहीं होती है और इसी वजह से वह इसके लिए कई रसायनों का इस्तेमाल करते है। सिंथेटिक सुगंध में फैथलेट्स होते है जो हार्मोन में समस्या पैदा करते है और जननांग विकास को बदल सकते हैं।

 

Source: Google

390 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − eleven =

To Top