क्राइम न्यूज़

शिक्षक ने छह साल की बच्ची के साथ की छेड़खानी

Wednesday, October 10, 2018 02:13:49 PM
शिक्षक ने छह साल की बच्ची के साथ की छेड़खानी

क्राइम डेस्क। देशभर में लगातार बढ़ रही बलात्कार और अपराध की घटनाएं रूकने का नाम नहीं ले रही है और एक ऐसा ही दिल दहला देने वाला मामला कोलकाता में आया है। यहां एक शिक्षक ने ही सिर्फ छह साल की बच्ची के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ की। बताया जा रहा है कि यह मामला पश्चिम बंगाल के कोलकाता क्षेत्र का है, जैसे ही परिजनों और अन्य लोगों को इस शर्मसार करने वाली घटना के बारे में पता चला वें स्कूल पहुंच गए और वहां प्रदर्शन कर तोडफ़ोड़ भी की। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस को भी लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। जिसकी वजह से कई पुलिसकर्मी घायल हो गया। जानकारी के अनुसार कोलकाता के एक सरकारी स्कूल के शिक्षक ने छह वर्षीय एक बच्ची के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ की जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। जानकारी के अनुसार शिक्षामंत्री पार्थ चटर्जी ने मामले को लेकर कहा है कि राज्य सरकार ने स्कूल से कथित छेडछाड़ और प्रदर्शनकारी अभिभावकों द्वारा स्कूल की संपत्ति को पहुंचाए गए नुकसान के बारे में रिपोर्ट मांगी है।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण-पूर्वी संभाग) के कल्याण मुखर्जी ने बताया कि शहर के दक्षिणी हिस्से में स्थित स्कूल में प्रवेश का प्रयास कर रहे अभिभावकों को रोकने में पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारियों के पथराव में गरियाहा और लेक थानों के दो प्रभारी अधिकारियों सहित दस पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस को प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा। उसने पुलिस कर्मचारियों पर हमला करने और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने पर तीन लोगों को गिरफ्तार किया। प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज के बारे में पूछे जाने पर मुखर्जी ने कहा कि पुलिस ने खुद को और सार्वजनिक संपत्तियों को बचाने के लिए यह कदम उठाया।

उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और पोक्सो कानून 2012 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस पर तत्काल प्रतिक्रिया देने के लिए स्कूल प्रशासन उपलब्ध नहीं हुआ। मीडिया रिपोट्र्स से प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने बताया है कि विभाग अपनी जांच में इस घटना की स्थिति का पता लगा लेगा और अगर संबंधित शिक्षक के खिलाफ आरोप सही पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह कथित घटना पिछले महीने हुई थी। इस बीच, पश्चिम बंगाल बाल अधिकार आयोग की अध्यक्ष अनन्या चक्रवर्ती ने कहा कि पुलिस जांच की कड़ी निगरानी होगी।

167 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 − 1 =

To Top