रोचक खबरे

इन तिथियों को भूलकर भी ना तोड़ें बेलपत्र, वरना भौलेनाथ कर देंगे बर्बाद

Monday, June 11, 2018 01:15:34 PM
इन तिथियों को भूलकर भी ना तोड़ें बेलपत्र, वरना भौलेनाथ कर देंगे बर्बाद

ज्योतिष डेस्क। सोमवार का दिन शिव पूजा के लिए खास माना जाता है। इस दिन पूजा करने से भगवान शिव प्रसन्न हो जाते है, शिव पूजा और बेलपत्र का संबंध काफी पुराना है, जब भी कोई जातक भगवान शिव की खास पूजा करता है तो उस समय वह भगवान शिव पर बेलपत्र जरूर चढ़ाता है, लेकिन क्या आपको पता है कि शिव पूजा में बेलपत्र क्यों चढ़ाया जाता है। किस दिन बेलपत्र को तोडऩा सही नहीं होता है, आइये दोस्तों आज हम आपको बताते है भगवान शिव की पूजा-बेलपत्र के बारे में विस्तार से

Image result for बेलपत्र bhagwan shiv

जानिए शिव पूजा में क्यो जरूरी होता है बेलपत्र
शिव पूजा में बेलपत्र का चढ़ावा पापनाशक व सांसारिक सुखों को देने के नजरिए से बहुत खास रखता है। खासतौर पर सोमवार को बेलपत्र का चढ़ावा मनोरथ सिद्धि का श्रेष्ठ उपाय है। हिन्दू पंचांग के मुताबिक सोमवार का दिन शिव-शक्ति का खास दिन है। बेल वृक्ष में शिव व शक्ति स्वरूपा देवी लक्ष्मी का वास माना गया है और शिव-शक्ति एक-दूसरे के बिना अधूरे माने गए है। इसी कारण सोमवार के दिन या भगवान शिव की खास पूजा में भगवान शिव को बेलपत्र अर्पित करना शुभ लाभदायक होता है।

Image result for बेलपत्र bhagwan shiv

इन तिथियों को भूलकर भी नहीं तोडें बेलपत्र
हिंदू धर्म में ज्योतिष शास्त्र को महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है, ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार, चतुर्थी, अष्टमी, नवमी, चतुर्दशी, अमावस्या, संक्रांति (सूर्य का राशि बदल दूसरी राशि में प्रवेश) तिथियों और सोमवार के दिन बेलपत्र नहीं तोडऩा चाहिए।

 

Source: Google

1,650 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 5 =

To Top