ज्योतिष & धर्म

इन रंग के परिधान स्त्रियों के लिए होते है शुभ

Tuesday, May 15, 2018 11:09:41 AM
इन रंग के परिधान स्त्रियों के लिए होते है शुभ

ज्योतिष डेस्क। हिंदू मान्यताओं के अनुसार वैदिक पूजन पद्धति में विभिन्न वस्तुओं और रीतियों का बहुत महत्व है। कहा जाता है कि पूजन की कुछ विधियां तो ऐसी हैं जिनके बिना पूजन अधूरा माना जाता है। ये मान्यताऐं पूजन के दौरान परिधान पहनने और उसके रंग से जुड़ी हैं। जहां परिधानों और वस्त्रों का शुद्ध और पवित्र होना आवश्यक है वहीं इनका रंग भी अलग अलग पूजन के लिए मायने रखता है। जैसे मां बगलामुखी का पूजन करना हो तो हमें पीले वस्त्र ही पहनने होते हैं, यह तंत्रोक्त साधना के लिए बहुत जरूरी है। उसी तरह से महिलाओं के लिए पूजन के दौरान सफेद वस्त्र शुभकर नहीं माने जाते हैं।

Image result for परिधान स्त्रियों

ये रंग महिलाओं के लिए होते हैं शुभ

सफेद वस्त्र वैधव्य का प्रतीक होते हैं। प्राचीन मान्यता है कि स्त्री का पति मर जाने के बाद उसके जीवन के सभी रंग समाप्त हो जाते है। इसी लिए एक विधवा को शुभ्र परिधान या साड़ी पहनाई जाती थी। इसके अलावा प्राचीन मान्यताओं में विधवा के लिए कुछ पूजन को वर्जित माना जाता था, ऐसे ही लाल रंग को पूजन के लिए शुभ माना जाता है।

Image result for लाल रंग परिधान स्त्रियों

लाल रंग प्रेम और सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है। लोक मान्यता में अधिकांशत: लाल रंग को सुहाग से जोड़ा जाता है, परन्तु ज्योतिषीय दृष्टिकोण से लाल रंग मंगल के नुकसान की भरपाई है। सामाजिक मान्यताओं में वैधव्य का दोष स्त्रियों को दिया जाता है। स्त्री मांगलिक हो और पति मांगलिक न हो तो ऐसा माना जाता है कि स्त्री हावी रहेगी और दांपत्य जीवन में तनाव रहेगा।

Image result for परिधान स्त्रियों

बदले परिधान

परिधान की बात की जाए तो महिलाओं को परिधानों का रंग भी लगातार बदलना चाहिए। सोमवार को क्रीम, मंगलवार को लाल, बुधवार को हरा, वीरवार को पीला, शुक्रवार को गुलाबी, शनिवार को नीला और रविवार को धूसर या गहरा बैंगनी रंग पहनने की सलाह दी जाती है। यह रोजाना का बदलाव उन्हें सभी ग्रहों के अनुकूल परिणाम दिलाता है। वहीं नारंगी रंग त्याग और पवित्रता का प्रतीक होता है इसलिए महिलाओं के लिए पूजन के दौरान इन रंगों का इस्तेमाल करना शुभ माना जाता है।

 

Source: Google

963 views
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + 20 =

To Top